Nrega Payments Through Banks । बैंकों के माध्यम से नरेगा भुगतान

Nrega Payments Through Banks नरेगा का मतलब राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम 2005 है। इसके लॉन्च के समय, अधिनियम का नाम बदलकर मनरेगा (महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम) कर दिया गया था, जिसका पूर्ण रूप महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम है।
यह योजना यह सुनिश्चित करने के लिए एक सामाजिक उपाय के रूप में लागू की गई थी कि भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को “काम करने का अधिकार” है। इस सामाजिक उपाय और श्रम विनियमन का प्राथमिक विचार यह है कि स्थानीय सरकारें ग्रामीण भारतीयों को उनके जीवन स्तर में सुधार के लिए कम से कम 100 दिनों का वेतन रोजगार प्रदान करें।

नरेगा के प्राथमिक लक्ष्य । Primary goals of MGNREGA

नरेगा, जिसे दुनिया की सबसे बड़ी और सबसे महत्वाकांक्षी सामाजिक पहल कहा जाता है, को निम्नलिखित प्राथमिक लक्ष्यों को ध्यान में रखकर बनाया गया था।
ग्रामीण गरीब लोगों की आजीविका को बढ़ावा देकर सामाजिक समावेश सुनिश्चित करने के लिए सक्रिय कदम उठाना।
अकुशल श्रम के लिए स्वेच्छा से काम करने वाले प्रत्येक व्यक्ति के लिए कम से कम 100 दिनों के सवैतनिक ग्रामीण रोजगार का सृजन।
ग्रामीण क्षेत्रों में कुओं, तालाबों, सड़कों और नहरों जैसी लंबी अवधि की संपत्तियों का निर्माण ग्रामीण-से-शहरी प्रवास को कम करना
कम उपयोग वाले ग्रामीण श्रम का उपयोग करके ग्रामीण बुनियादी ढांचे का निर्माण करें।

बैंकों के माध्यम से नरेगा भुगतान । NREGA Payment Through Banks

नरेगा के मामले में मूल भुगतान तंत्र जॉब कार्ड धारक के बैंक खाते में भुगतान का सीधा हस्तांतरण है, जब मजदूरी की गणना पूर्ण श्रम के आधार पर की जाती है। ऐसे लेनदेन के लिए, बैंक/डाकघर खाता वही है जो नियोक्ता द्वारा जॉब कार्ड पर सूचीबद्ध है।
नरेगा भुगतान प्रक्रिया आपके पूरा करने के लिए एक चरण-दर-चरण मार्गदर्शिका है यदि किसी मनरेगा आवेदक के पास पहले से कोई बैंक खाता नहीं है, तो वह केवाईसी के प्रमाण के रूप में नरेगा जॉब कार्ड का उपयोग करके एक खाता खोल सकता है।

ग्राम पंचायत द्वारा चुनिंदा मामलों में नरेगा का भुगतान नकद में किया जा सकता है। यह उस क्षेत्र में डाकघरों और बैंकों की कमी के परिणामस्वरूप हो सकता है जहां मनरेगा भुगतान किया जाना है। हालांकि, नकद आधारित नरेगा भुगतान की अनुमति केवल मंत्रालय और राज्य सरकारों के पूर्व ज्ञान और समझौते के साथ ही दी जाती है। यह उजागर करना महत्वपूर्ण है कि भुगतान प्राप्त करने वाले व्यक्ति के लिंग की परवाह किए बिना, मनरेगा मजदूरी समान है।

नरेगा पेमेंट लिस्ट ऑनलाइन कैसे देखें । NREGA payment 

  1. सबसे पहले आप आधिकारिक वेबसाइट nrega.nic.in पर जाएँ।
  2. अब पेज के खुलते ही अपना राज्य चुनें।
  3. आप आपको नरेगा डिस्ट्रिक्ट पेमेंट लिस्ट की जानकारी के लिए जिला चुने।
  4. अब आया पेज खुलकर आएगा वहां आपको ब्लॉक यानि प्रखंड की नरेगा सूची के लिए ब्लॉक का चयन करना है।
  5. अब यहाँ आपको मनरेगा पंचायत सूची दिखेगी इसमें आप अपनी पंचायत चुने।
  6. पंचायत का चयन के बाद Consolidate Report of Payment to Worker के विकल्प में क्लिक करें।
  7. इस तरह से आपके सामने नरेगा पेमेंट लिस्ट खुलकर आजायेगी।

Read Also : नरेगा मिसटोल मे नाम देखे ऑनलाइन

नरेगा पोस्ट ऑफिस भुगतान की जानकारी । NREGA post office payment information

आपको हमने पहले नरेगा पेमेंट लिस्ट देखना का आसान तरीका बताया है , इसी के साथ अब आप नरेगा पोस्टल पेमेंट की जानकारी लेने का पूरी प्रक्रिया जान पाएंगे। साथ ही नरेगा भुगतान का प्रोसेस अर्थात पेमेंट प्रोसेस कैसे होता है और नरेगा पोस्टल पेमेंट या बैंक से पेमेंट की जांच कैसे की जा सकती है। इसको पड़ने के बाद आप सारी प्रोसेस समझ पाएंगे। पर ध्यान रहे इसके लिए आपका जॉब कार्ड अकाउंट और पोस्ट ऑफिस पेमेंट बैंक का अकाउंट लिंक होना अनिवार्य है।

आगे लाभार्थी अपना नरेगा पोस्ट ऑफिस पेमेंट की प्रोसेस जांच की जानकारी हिंदी में प्राप्त कर पाएंगे।
आप mgnrega.nic.in की आधिकारिक वेबसाइट में जाकर मैन्युअल में पेमेंट यानी भुगतान से सभी जुडी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। या e-FMS की वेबसाइट नेट नरेगा में भी आप पोस्ट ऑफिस और बैंक से पेमेंट से सम्बंधित जानकारी देख पाएंगे।

  • सबसे पहले आपको पेमेंट ऑफिसियल वेबसाइट के माध्यम से अधिकारी नरेगा पोस्टल पेमेंट्स ऑनलाइन इ एफएमएस के द्वारा किया जाता है।
  • सभी जॉब कार्ड होल्डर के अकॉउंट में पेमेंट ऑनलाइन ट्रांसफर NEFT / RTGS के माध्यम से किया जाता है।
  • नरेगा पोस्टल पेमेंट के लिए बैंक या पोस्ट ऑफिस कमर्शियल पेमेंट प्रोसेस का उपयोग करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.