मनरेगा में पशु शेड स्वीकृत करायें । MNREGA Pashu Shed Approved

दोस्तों आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको जानकारी देंगे की आप मनरेगा में पशु शेड स्वीकृत (MNREGA Pashu Shed Approved) के बारे में सभी जरुरी जानकारी प्रदान करेंगे। तो चलिए इस आर्टिकल को पढ़ते है।

केंद्र सरकार के माध्यम से मनरेगा पशु शेड योजना (MGNREGA Animal Shed Scheme) को शुरू किया है। इस योजना को भारत के पंजाब, बिहार, उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश राज्य में शुरू किया गया है। इस योजना के अंतर्गत पशु का पालन करने के लिए शेड का निर्माण कार्य गया है। MGNREGA Animal Shed Scheme के अंतर्गत लाभ पाने के लिए पशुपालकों के पास कम से कम तीन पशु होना चाहिए। 2 पशुओं के शेड के लिए 80 हजार, 4 पशुओं के शेड के लिए 1 लाख 16 हजार और 6 पशुओं के शेड के लिए 1 लाख 60 हजार रुपए की राशि विभाग उपलब्ध करा रहा है।

मनरेगा पशु शेड योजना 2022 डिटेल्स इन हिंदी । Mnrega Pashu Shed Yojana 2022 Details in HIindi

योजना का नाम मनरेगा पशु शेड योजना
योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा
योजना का उद्देश्य पशु पालन व्यवसाय को बढ़ावा देना
योजना के लाभार्थी पशु पालन करने वाले किसान
योजना लागू राज्य पंजाब, मध्य प्रदेश, बिहार, उत्तर प्रदेश
योजना का लाभ पशु शेड निर्माण के लिए वित्तीय सहायता दिया जाएगा
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन / ऑफलाइन
संबंधित विभाग ग्रामीण विकास विभाग
अधिकारिक वेबसाइट nrega.nic.in

मनरेगा में पशु शेड योजना स्वीकृत की मुख्य विशेषताएं । MNREGA Pashu Shed Features

  • मनरेगा में पशु शेड योजना में सुविधा – इस योजना के पशुपालक या निजी जमीन पर बैठने के लिए ₹80000 की मदद प्रदान की जाएगी।
  • क्या क्या बनाया जा सकता है – सरकार द्वारा दी गई राशि का उपयोग शेड के साथ साथ फर्श और यूरिनल टंकी बनाने में कर सकते हैं।
  • इस योजना में में शामिल पशु – इस योजना में पशुपालन करने वाले किसानों के पास गाय, भैंस, बकरी और मुर्गी आदि पशुओ को शामिल किया जाता है, जिनके लिए इस योजना के अंतर्गत वे शेड बनवा सकते है।
  • इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को पैसे नहीं दिए जायेंगे बल्कि सरकार अपने अंडर में उनके शेड का निर्माण कराएगी।

Read also :- मनरेगा में सोशल ऑडिट क्या होता है । MNREGA Social Audit

मनरेगा में पशु शेड योजना स्वीकृत के लाभ । MNREGA Pashu Shed Yojana Benefits

  • इस योजना का लाभ मनरेगा के बजट के अनुसार पहले आओ और पहले पाओ के आधार पर दिया जाता है।
  • इस योजना के अंतर्गत पशुपालक सही तरीके से पशुपालन कर पाएंगे और उनकी आय में भी वृद्धि होगी।
  • पशुधन आधारित आजीविका क्षेत्र में कौशल विकास में बढोतरी होगी।
  • पशुपालको के पशु स्वास्थ्य में सुधार करने के लिए पशु चिकित्सा प्रणाली को सुधारता है।
  • पशु प्रजनन का लाभ सही तरीके से पशुपालक उठा पाएंगे।
  • कृषि जलवायु क्षेत्र की परिस्थितियो के अनुसार पशुधन विकास सुनिश्चित करना।
  • मुर्गी या बकरी पालन के लिए भी किसान इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

Read also :-

मनरेगा में पशु शेड योजना स्वीकृत के लिए जरुरी पात्रता । MNREGA Pashu Shed Scheme Eligibility

  1. मनरेगा में पशु शेड योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक भारतीय निवासी होना जरूरी है।
  2. इस योजना का लाभ सिर्फ उन्ही किसानों को दिया जायेगा, जिनकी आजीविका सिर्फ पशुपालन पर निर्भर है।
  3. इस योजना का लाभ लेने के लिए आपका मनरेगा जॉब कार्ड धारक होना आवश्यक है।
  4. इस योजना का लाभ पाने के लिए पशुपालकों के पास कम से कम 2 पशु रहना जरूरी है।

Mnrega Pashu Shed Yojana के लिए नियम और शर्तें

  • पशु पालन के अंतर्गत किसान गाय, भैंस, बकरी, मुर्गी आदि पाल सकता है| और इस योजना का लाभ उठाकर शेड निर्माण करवा सकता है।
  • मनरेगा के तहत पशुपालन शेड का निर्माण ऐसी जगहों पर किया जाएगा, जहां की भूमि समतल हो और ऊंचे स्थान पर हों।
  • अपनी पशुओं के लिए शेड का निर्माण पशु पालक को खुद की जमीन पर करना होगा।
  • शेड की लंबाई उत्तर और दक्षिण दिशा में बनानी होगी जिससे पशुओं को उचित धूप मिल सके।
  • अगर पशु पालक के पास चार पशु है, तो उसे ₹116000 की सब्सिडी दी जाएगी।
  • पशु पालकों के पास मनरेगा पशु शेड योजना के तहत सब्सिडी प्राप्त करने के लिए कम से कम 2 पशु का होना आवश्यक है।

मनरेगा पशु शेड योजना में रजिस्ट्रेशन कैसे करे । MNREGA Pashu Shed Scheme Registration

MGNREGA Pashu Shed Apply Online

  1. दोस्तों इस योजना के अंतर्गत आवेदन करनें के लिए पहले आपको बैंक या ऑनलाइन एप्लीकेशन के माध्यम से फॉर्म प्राप्त करना होगा। Pashu shed yojana form pdf Download
  2. आवेदन फॉर्म प्राप्त करनें के बाद उसमें पूछी गयी सभी जानकारियां ध्यानपूर्वक  दर्ज करनी होंगी।
  3. उसके बाद फॉर्म के अनुसार जरुरी दस्तावेजों की कॉपी प्रति संलग्न कर दस्तावेज नंबर दर्ज करे।
  4. अब एप्लीकेशन फॉर्म को बैंक की उस ब्रांच में जमा करना होगा, जंहा से आप लोन के लिए आवेदन करना चाहते हैं।
  5. उसके बाद बैंक के कर्मचारियों या सम्बंधित अधिकारियों द्वारा आपके आवेदन पत्र और उसमें संलग्न दस्तावेजों की जाँच की जाएगी।
  6. यदि जाँच के दौरान आपके द्वारा दी गयी जानकारी और दस्तावेज सही पाए जाते है, तो मनरेगा पशु शीड योजना के अंतर्गत आपको लाभ प्रदान किया जायेगा।
  7. इस प्रकार आप मनरेगा शीड योजना में आसानी से आवेदन कर सकते है।

Read also :-

मनरेगा पशु शेड योजना हेल्पलाइन नंबर । MNREGA Pashu Shed Yojana Helpline Number

दोस्तों इस आर्टिकल के माध्यम से मनरेगा पशु शेड योजना (MNREGA Pashu Shed Yojana) से सम्बन्धित सारी जानकारी प्रदान की है, अगर इसके आलावा आपको  को किसी भी प्रकार की अन्य जानकारी प्राप्त करनी है या फिर किसी प्रकार की परेशानी होती है तो आप मनरेगा के हेल्पलाइन नंबर (Helpline Number) पर सम्पर्क कर सकते हैं। इस टोल फ्री नंबर से आप MNREGA Pashu Shed Yojana के सम्बन्धित सभी जानकारि को प्राप्त कर सकते हैं।

  • Helpline Number : 1800-110-707
  • Official Website : nrega.nic.in

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने आपको मनरेगा पशु शेड योजना (MNREGA Pashu Shed Yojana) के बारे मे सभी जरुरी जानकारी प्रदान की है। अगर आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी हो तो आप अपने दोस्तों को भी शेर जरुर करे और अपने Facebook और WhatsApp के ग्रुप में भी अवश्य शेर करे। दोस्तों इस आर्टिकल या हमारे बारे में कोई सवाल हो तो निचे कमेन्ट बॉक्स में कमेन्ट जरुर करे।

FAQs. मनरेगा पशु शेड योजना

Q-1. MGNREGA Animal Shed Scheme क्या है?
A- MGNREGA Animal Shed Scheme के अंतर्गत पशुपालक या किसान के लिए पशु शेड बनाने के लिए दी जाने वाली वित्तीय सहायता है।

Q-2. MGNREGA Animal Shed Scheme का लाभ किसे मिलेगा ?
A- मनरेगा पशु शेड योजना का लाभ पशुपालन करने वाले किसानों दिया जायेगा।

Q-3. पशु शेड योजना में पशुपालकों को कितनी रुपए की सहायता दी जाती है?
A- पशु शेड योजना में पशुपालकों को कम से कम 3 पशुओं के लिए 80 हजार रूपये और जिनके पास 6 पशु हैं उन्हें इसकी दोगुनी राशि की सहायता की जाती है।

Q-4. मनरेगा पशु शेड योजना में आवेदन कैसे करें ?
A- निजी पंचायत क्षेत्र में जाकर मनरेगा पशु शेड योजना में आवेदन कर सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.